Sahity.in से जुड़ें @WhatsApp @Telegram @ Facebook @ Twitter

Browsing Category

व्यक्तित्व

कृष्णमार्गी शाखा के महान् सन्त महाप्रभु वल्लभाचार्य

महाप्रभु वल्लभाचार्य वल्लभाचार्य वैष्णवधर्म के कृष्णमार्गी शाखा के दूसरे महान् सन्त थे. इनका जन्म 1479 ई. में चंपारण्य (जिला रायपुर) में उस समय हुआ था, जब इनके पिता तेलंग ब्राह्मण लक्ष्मणभट्ट तेलंगाना से अपने परिवार के साथ काशी की
Read More...

पं. रविशंकर शुक्ल [Pt. Ravi Shankar Shukla]

पं. रविशंकर शुक्ल पण्डित शुक्ल का जन्म 2 अगस्त 1877 ई. को सागर में हुआ था. सन् 1885 ई. में उन्होंने मैट्रिक की परीक्षा पास की. बी. ए. की परीक्षा पास करने के बाद उन्होंने शिक्षण कार्य आरम्भ किया. बाद में उन्होंने एल एल.बी. की परीक्षा
Read More...

पं. वामनराव लाखे

पं. वामनराव लाखे छत्तीसगढ़ के राष्ट्रीय आंदोलन में इनकी महत्वपूर्ण भूमिका थी. आप रायपुर जिले में सहकारिता के जनक थे तथा सामाजिक, आर्थिक एवं सांस्कृतिक विकास में भी उन्होंने महत्वपूर्ण योगदान दिया. इनका जन्म 17 सितंबर, 1872 को रायपुर
Read More...

पं. रामदयाल तिवारी

पं. रामदयाल तिवारी पं. रामदयाल तिवारी का जन्म 23 जुलाई, 1892 को रायपुर में हुआ. इनके पिता प्राथमिक शाला में अध्यापक थे. पं. रामदयाल तिवारी मेधावी छात्र थे. जब आप हाईस्कूल में पढ़ रहे थे. तब आपके पिता सेवामुक्त हो गये. फलतः ट्यूशन
Read More...

डॉ. खूबचन्द बघेल

डॉ. खूबचन्द बघेल इनका जन्म रायपुर जिले के पथरी ग्राम में 19 जुलाई, 1900 को एक किसान परिवार में हुआ था. कमल कीचड़ में ही खिलता है, वे इसके सटीक प्रमाण हैं. बाल्यकाल में ही संवेदनशील और विवेकी डॉ. बघेल की प्रारम्भिक शिक्षा गाँव पथरी
Read More...

बैरिस्टर छेदीलाल

बैरिस्टर छेदीलाल बैरिस्टर छेदीलाल का जन्म सन् 1887 में अकलतरा (बिलासपुर) में हुआ था. अकलतरा में प्राथमिक शिक्षा पूरी करने के बाद माध्यमिक शिक्षा बिलासपुर के म्यूनिसिपल हाईस्कूल से प्राप्त की. शिक्षा के साथ विभिन्न कार्यक्रमों में इनकी
Read More...

आदिवासी समाज सुधारक गहिरा गुरु

आदिवासी समाज सुधारक गहिरा गुरु छत्तीसगढ़ क्षेत्र के आदिवासियों को शोषण, भ्रष्टाचार से मुक्त कराने तथा आदिवासी समाज में सुधार करने के लिये यहाँ की पावन भूमि पर गहिरा गुरु का जन्म रायगढ़ जिले के घरघोड़ा तहसील में लैलूंगा के निकट गहिरा
Read More...

गांधीवादी नेता ठाकुर रामप्रसाद पोटाई

गांधीवादी नेता ठाकुर रामप्रसाद पोटाई कांकेर जिले के प्रख्यात गांधीवादी नेता ठाकुर रामप्रसाद पोटाई का जन्म भानुप्रतापपुर तहसील के करमोती गाँव में 1904 में हुआ था. उनका स्थान छत्तीसगढ़ के स्वाधीनता संग्राम सेनानियों के मध्य अग्रणी है.
Read More...

प्रवीरचंद्र भंजदेव एक विलक्षण व्यक्तित्व

प्रवीरचंद्र भंजदेव एक विलक्षण व्यक्तित्व श्री प्रवीरचंद्र भंजदेव का जन्म 25 जून, 1929 को शिलांग में हुआ था. उनकी माता कुमारी देवी दस्तर की महारानी थी. जब महारानी का निधन लंदन में 'एपेंडीसाइटिस' के ऑपरेशन के कारण हुआ, तब ब्रिटिश शासन ने
Read More...

छत्तीसगढ़ की महिला सत्याग्रही डॉ. राधाबाई

बीसवीं शताब्दी में, देश की स्वाधीनता के लिए बहुत-से आंदोलन हुए, जिनका पूरे देश में असर हुआ और ब्रिटिश सरकार के पांव उखड़ने लगे। महात्मा गाँधी ने इन आंदोलनों को ज़मीनी स्तर पर ले जाने का श्रेय देश की महिलाओं जैसे डॉ. राधाबाई को दिया क्योंकि
Read More...